Pachan Shakti अनपच और गैस होने के असली कारण

दोस्तों हमारे शरीर को स्वस्थ बनाये रखने के लिए पाचन तंत्र का बहुत अहम् योगदान रहता है। हमारे द्वारा खाये गए भोजन सही से नहीं हजम हो पाने के चलते बहुत से समस्याओं का सामना करना पड़ जाता है।खाने पीने को लेकर आम तौर पर रोजाना ऐसे कई गलतियां हो जाती है जिसका हमे पता भी नहीं चलता और और पाचन तंत्र में गड़बड़ी हो जाने से अनपच ,कब्ज और गैस की समस्या उत्पन्न हो जाती है जिसके चलते कई परेशानियों का सामना करना पड़ जाता है।

आज के इस लेख में हम पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं। अनपच ,कब्ज और गैस होने के असली कारण  तथा किन गलतियों की वजह से पाचन तंत्र में समस्या उत्पन्न हो सकती है और पाचन तंत्र ठीक रखने के लिए किन बातों का ध्यान देना चाहिए इन सब बारे में जानेंगे।

 

 

 पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं ? अनपच ,कब्ज और गैस होने के असली

 कारण। क्या करें क्या ना करें !

सुबह खाली पेट में चीनी से बने चीज़ों से परहेज करना चाहिए जैसे की चाय बिस्कुट केक आदि या ऐसे और भी  खाद्यपदार्थ जो चीनी से बने होते हैं । क्योंकि खाली पेट इनका सेवन करने से पेट में गैस बनाता है जिससे हमारे लिवर और पैन्क्रीअस पर भी असर डालता है।

सुबह के खाना का हमारे शरीर पर बहुत ज्यादा असर होता इसलिए  का ध्यान रहे कि सुबह के समय जो कुछ भी नाश्ते के रूप में सेवन करना है वह हमेशा अच्छा और पौस्टिक  होना चाहिए।

पाचन तंत्र को सही बनाये रखने के लिए कभी भी खाना खाने के तुरंत बाद नहीं नहाना चाहिए ऐसा इसलिए नहीं करना चाहिए क्योंकि जब भी आप कुछ कहते हैं तो पाचन तंत्र उसे पचाने में लग जाता है इस समय शरीर में खून का बहाव पेट की तरफ ज्यादा होने लगता है।

 ऐसे में खाने के तुरंत बाद नहाने से शरीर ठंडा पड़ जाता है और शरीर का तापमान सामान्य करने के लिए खून का बहाव पेट की तरफ कम और शरीर के बाकी हिस्सों में ज्यादा होने लगता है जिसके चलते पाचन का काम धीमा पड़ जाता है। ऐसे में या तो खाने से पहले नहा लेना चाहिए या फिर खाने के कुछ घंटे बाद नहाना चाहिए।

जब भी आप खाना खाते हैं तो  इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए की खाना कभी भी हड़बड़ी में नहीं खाना चाहिए अगर आप जल्दी में खाना खाना खाते हैं तो बहुत ही कम समय में पेट में ज्यादा खाना चला जाता है  चलते भारीपन और डकार की समस्या होने लगती है।  इसलिए खाना हमेशा ही धीरे धीरे और आराम से और चबा चबा कर ही खाना चाहिए।

खाने के तुरंत बाद नहीं लेटना चाहिए क्योंकि खाना का बहाव ऊपर से नीचे की ओर होता है ऐसे में खाने के तुरंत बाद लेटने से पाचन क्रिया धीमा पड़ जाता है तथा खाना का कुछ हिस्सा ऊपर की और आने लग जाता है जिससे एसिडिटी और सीने में जलन वाली समस्या उत्पन्न हो सकती है।

खाने में नॉनवेज के साथ हमेशा हरी सब्जी या फिर सलाद का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि नॉनवेज खाने में हमारे शरीर को बहुत से पोषक तत्व तो मिल जाते हैं लेकिन जो चीज़ आंतो में जमे शरीर में वेस्ट को निकालता है वो नॉनवेज खाना में  नहीं पाया जाता है बस सब्जियों में पाया जाता है। ऐसे में कब्ज की समस्या और पेट सही से साफ़ नहीं होने की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि खाने के तुरंत बाद पानी पीने से खाया गया खाना फूल जाता है तथा खाने को पचाने के लिए पेट में निकलने वाले पाचक रस ठीक से नहीं निकल पाते इससे पाचन क्रिया धीमा पड़ जाता है और भारीपन महसूस होने लगता है। इसलिए जब भी भोजन  करते समय प्यास लगे तो थोड़ी मात्रा में  या फिर एक या दो घूंट पानी पीने में कोई बुराई नहीं है लेकिन खाने के तुरंत बाद ग्लास भर पानी नहीं पीना चाहिए और खाने के आधे घंटे बाद ही ग्लास  भर पानी पीना चाहिए जिससे पाचन सकती अच्छा बना रहता है।

Leave a Comment