Data communication-डेटा संचार क्या है ?

Data communication kya hai? डेटा  संचार क्या है ?

 

 

वह प्रक्रिया जिसके द्वारा हम एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर पर डेटा , निर्देश तथा सूचनाएँ पहुँचाने का कार्य करते हैं।इस कार्य पर होने वाली प्रक्रिया के बारे में जानने का कोशिश करेंगे यानि आज के इस लेख पर हम Data Communication क्या है यानि डेटा संचार क्या है के बारे में  समझने का कोशिश करेंगे साथ डेटा संचार के प्रकार के बारे में आसान शब्दों में जानने का कोशिश करेंगे।

डेटा संचार की परिभाषा Definition of Data Communication in Hindi.

डेटा संचार क्या है ? What is Data Communication in Hindi?

वह प्रक्रिया जिसके द्वारा हम एक कंप्यूटर से डेटा ,निर्देश तथा सूचनाएँ दूसरे कम्प्यूटरों तक पहुंचती है ,डेटा संचार (Data Communication )  कहलाती है। डेटा संचार में दो या  अधिक कम्प्यूटरों के मध्य डिजिटल या एनालॉग डेटा का स्थानांतरण किया जाता है ,जो  आपस संचार चैनल से जुड़े होते हैं। डेटा को सिग्नल्स के रूप में एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुँचाया जाता है।
ये सिग्नल्स तीन प्रकार के होते हैं :-

डिजिटल सिग्नल्स (Digital Signals)

डिजिटल सिग्नल्स में डेटा का इलेक्ट्रॉनिक रूप में आदान प्रदान  जाता है ,यानि बाइनरी संख्याओं में (0 तथा 1) के रूप में किया जाता है।

एनालॉग सिग्नल्स (Analog Signals)

एनालॉग सिग्नल्स में डेटा का रेडियो तरंगों के रूप में आदान -प्रदान किया जाता है। उदहारण – जैसे टेलीफोन  द्वारा।

हाइब्रिड सिग्नल्स (Hybrid Signals)

हाइब्रिड सिग्नल्स में एनालॉग तथा डिजिटल दोनों प्रकार के सिग्नल्स गुण  हैं।

डेटा संचार के प्रकार Types of Data Communication in Hindi.

डेटा संचार  तीन प्रकार के होते हैं।
  • सिम्पलेक्स चैनल (Simplex Channel )
इसमें डेटा का प्रवाह सदैव एक ही दिशा में  होता है। मतलब यह चैनल केवल  दिशा में डेटा  संचार कर सकता है। इस चैनल  माध्यम से केवल एक संचार डिवाइस ही सुचना को भेज सकता है तथा  दूसरा संचार डिवाइस सुचना को केवल प्राप्त  सकता है।
उदाहरण  के लिए जैसे – रेडियो और टेलेविज़न
  • अर्द्ध डुप्लेक्स चैनल (Half Duplex Channel )
Half Duplex Channel इस चैनल  में डेटा का प्रवाह दोनों दिशाओं में होता है ,लेकिन एक समय में  केवल एक ही दिशा में डेटा का प्रवाह हो सकता है।  उदाहरण के लिए :-  वॉकी -टॉकी
  • पूर्ण डुप्लेक्स चैनल (Full Duplex Channel)

इस चैनल में डेटा का संचार दोनों दिशाओं में होता होता है। दोनों चैनल लगातार डेटा का आदान -प्रदान का सकता है। मोबाइल फ़ोन पूर्ण डुप्लेक्स चैनल का सबसे अच्छा उदाहरण है।

 

संचार मीडिया (Communication Media)

Communication Media क्या है ? संचार मीडिया क्या होता है ?
किसी कंप्यूटर  से टर्मिनल या किसी टर्मिनल से कंप्यूटर तक डेटा  के संचार की लिए किसी माध्यम की जरूरत होती है,इस माध्यम को संचार मीडिया () कहा जाता है।
ये दो प्रकार के होते हैं –
  • गाइडेड मीडिया या वायर्ड तकनीक  (Guided Media or Wired Technology)
इस माध्यम में डेटा  सिग्नलों को तारो के माध्यम से प्रवाहित किया जाता है। इन तारों के द्वारा डेटा के संचार किसी विशेष पथ से होता है  ये तार कॉपर , टिन या सिल्वर के बने होते हैं।
ये तीन प्रकार के बने होते हैं:-
  1. ईथरनेट केबल या ट्विस्टेड पेयर  केबल
  2. को-एक्सीयल केबल
  3. फाइबर ऑप्टिक केबल
  • अनगाइडेड मीडिया या वायरलेस तकनीक (Unguided Media or Wireless Technology)
इसमें डेटा का प्रवाह बिना तारों वाले संचार माध्यमों के द्वारा होता है।  इस मीडिया के डेटा  का प्रवाह तरंगों के माध्यम से होता है। अनगाइडेड मीडिया  के कुछ विवरण इस प्रकार हैं :-
  1. रेडियोवेव ट्रांसमिशन
  2. इंफ्रारेड वेव ट्रांसमिशन
  3. माइक्रोवेव ट्रांसमिशन
  4. सेटेलाइट संचार

 

इस लेख में हमने डेटा संचार क्या है डेटा संचार के प्रकार के बारे में बताने के कोशिश की साथ की संचार मीडिया क्या है के बारे में संछिप्त में बताने का कोशिश की है हमे उम्मीद है ही इस लेख से Data Communication के बारे में जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर ऐसे ही और जानकारी जानना चाहते हैं तो जरूर  कमेंट बॉक्स पर बताएं। धन्यवाद !!

Leave a Comment